युवक रात में प्रेमिका से मिलकर लौटते समय दीवार से गिरा, फिर हुआ बुरा अंजाम

0
25

अमृतसर के अजनाला क्षेत्र में एक युवक देर रात अपनी प्रेमिका से मिलकर वापस जा रहा था। इसी दौरान चारदीवारी फांदते हुए वह नीचे गिर गया। इसके बाद प्रेमिका के घरवालों ने उसे मार डाला।

जिले के भिंडी सैदां गांव में एक युवक देर रात घर की चारदीवारी फांद कर प्रेमिका से मिलने उसके घर पहुंचा था। प्रेमिका से मिलने के बाद वह चारदीवारी फांदते समय हड़बड़़ाहट में नीचे गिर गया। इस पर युवती के परिजनों की नींद टूट गई आैर उन्‍हाेंने युवक को पकड़ लिया। परिजनों ने युवक की तेजधार हथियार से हत्‍या कर दी।

घटना के बारे में जानकारी मिलने के बाद डीएसपी रुपिंदर पाल सिंह ढिल्लों और भिंडी सैदां थाना के प्रभारी हरकीत सिंह मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने लड़की की मां और भाई के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

 

पुलिस के मुताबिक, भिंडी सैदां गांव के बाहर रहने वाले विरसा सिंह के बेटे जगीर सिंह का गांव की ही एक लड़की के साथ पिछले तीन साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों का मिलना-जुलना जारी था। युवती के घर पर भी अक्‍सर मिलते रहते थे। मौका मिलते ही युवती उसे अपने घर मिलने के लिए बुला लेती थी। इसके अलावा दोनों गांव के बाहर भी मिलते थे।

बताया जाता है कि दोनों शादी कर जिंदगी एक साथ बिताना चाहते थे, लेकिन लड़की की मां और भाई इसके लिए राजी नहीं थे। वह लड़की की शादी अपनी मर्जी से करवाना चाहते थे। लड़की ने शुक्रवार रात को मां और भाई के सो जाने के बाद युवक से मिलने की योजना बनाई। रात लगभग साढ़े दस बजे जब उसके घरवाले नींद में थे तो उसने जगीर सिंह को बुला लिया। जगीर दीवार फांद कर घर में घुसा और युवती के कमरे में चला गया।

लड़की से मिलने के बाद रात करीब 12 बजे के बाद जगीर सिंह घर से बाहर दीवार फांद कर निकलने लगा तो उसक पैर फिसल गया और वह जमीन पर गिर गया। जमीन पर गिरने की तेज आवाज से युवती के मां और भाई की नींद खुल गई और वे बाहर की ओर भागे।

दोनों ने देखा कि जगीर सिंह दोबारा चारदीवारी फांदकर भागने का प्रयास कर रहा है। इस पर दोनों मां-बेटे ने जगीर सिंह को नीचे खींच लिया और फिर उसकी जमकर पिटाई की। घर के बाहर मचे शोर को सुनकर युवती भी बाहर अाई और अपने प्रेमी को पिटते देख उसे बचाने का प्रयास करने लगी।

इसके बाद वह किसी तरह घर से भागी और जगीर सिंह के पिता देसा सिंह के पास पहुंच कर घटना के बारे में जानकारी दी। इस बीच युवती की मां और भाई ने तेजधार हथियार से युवक की हत्‍या कर दी। रात एक बजे देसा सिंह गांव के लोगों को एकत्र कर जब युवती के घर पहुंचा तो वहां बेटा का शव पड़ा था। मां और बेटा शव को बोरी में डालकर कहीं फेंकने की तैयारी कर रहे थे।

लड़की ने मां के पास जाने से किया इंकार

सुबह पुलिस जब जगीर सिंह का पोस्टमार्टम कराने के लिए शव कब्जे में ले रही थी तो पिता देसा सिंह और उसकी प्रेमिका फूट-फूट कर रो रहे थे। युवती ने पुलिस अधिकारियों से कहा कि वह अब इस घर में नहीं रहना चाहती, क्योंकि भाई और मां जेल से छूटते ही उसकी हत्या कर देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here