अमृतसर में महिला ने एक साथ दिया चार बच्चों को जन्म

0
23

अमृतसर । यहां एक 31 वर्षीय महिला ने एक साथ चार बच्चों को जन्म दिया है। चार बच्चों की किलकारियां गूंजने के बाद यह परिवार खुशी से फूला न समा रहा। महिला की पहले दो बेटियां हैं। रविवार को हुई डिलीवरी के बाद चार बच्चों में तीन लड़के व एक लड़की है।

बाबा बकाला तहसील के गांव नजीरपुरा निवासी अवतार सिंह की पत्नी कुलदीप कौर गर्भवती थी। वह उसे जांच के लिए प्रीत अस्पताल में नियमित रूप से लेकर आ रहे थे। शनिवार को कुलदीप को अचानक दर्द शुरू हुआ। ऐसे में उसे तत्काल अस्पताल ले जाया गया। रविवार को डॉक्टरों ने कुलदीप का अल्ट्रासाउंड किया। इस दौरान मालूम हुआ कि उसके गर्भ में एक से ज्यादा शिशु हैं। प्रसव पीड़ा तेज हो चुकी थी, इसलिए डॉक्टरों ने तत्काल आॅपरेशन करने का निर्णय लिया। इस दौरान महिला ने एक के बाद एक चार बच्चों को जन्म दिया।

दरअसल, कुलदीप कौर पहले से दो बेटियों की मां है। उन्हें चाह थी कि घर में एक बेटे की किलकारियां भी गूंजें। भगवान ने आज उसकी मुराद पूरी कर दी। एक साथ तीन बेटे और एक बेटी का जन्म होने पर यह परिवार खुशी से बागोबाग है। कुलदीप के पति अवतार सिंह ने बताया कि वह मेहनत मजदूरी करके परिवार का पेट पालता है। परिवार खुश है, लेकिन यह चिंता भी सता रही है कि एक साथ बच्चों का पोषण कैसे कर पाएंगे। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि अब ज्यादा मेहनत करके इन बच्चों की परवरिश करेंगे। प्रीत अस्पताल के डॉक्टर जेएस ग्रोवर ने बताया कि उनके अस्पताल में पहली बार एक साथ चार बच्चों का जन्म हुआ है।

क्यों होते हैं एक से अधिक बच्चे 

एक साथ चार बच्चों का जन्म असामान्य घटना है। चिकित्सा शास्त्र में इसे इडियोपैथी कहते हैं। इडियोपैथी से गर्भाशय में एक से ज्यादा एग बन जाते हैं। यह पूर्णत: प्राकृतिक रूप से होता है। दूसरा पहलू यह भी है कि जिन लोगों के संतान नहीं होती, वे इनफर्टिलिटी का सहारा लेते हैं। इस दौरान निसंतान दंपत्तियों को क्लामिसिन ड्रग खिलाई जाती है। इस दवा से भी एक से अधिक एग तैयार होते हैं और कई बच्चों का जन्म होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here